Google+ Followers

Google+ Followers

रविवार, 7 मई 2017

ईमानदारी का राशनकार्ड

सच बोलने का हक़ सभी को है  ...
सही पहचाने ...सच बोलने का हक़ सभी को है  ...आप को भी है
एक चोर ने कल चोरी की  ... यह बताने का हक़ दूसरे चोर को भी है
बात हक़ की है  ... मुस्कुराइए नहीं  ... यह हक़ आपको भी है












छोटे पैकिट ने बड़ा धमाका कुछ इस तरहा से कर दिया
युगपुरुष पर एक इलज़ाम उसने ईमानदार से धर दिया
हमने पूछा  ... ज़नाब !!!... अब क्या हुआ
चोरो की इसी मंडली में  ... कल तक तुम भी रहे हो
पहले क्या गुड खा रक्खा था   ...  जो चुप बैठे रहे हो
ज़नाब तपाक से बोले  ........ बैठा रहा हूँ तो क्या
कोई जुर्म कर दिया है  ... मोलभाव का हक़ तो आपको भी है
बात हक़ की है  ... मुस्कुराइए नहीं  ... यह हक़ आपको भी है
हमने भी दाग दिया फायर  ... फोरन ब्रेकिंग न्यूज़ की ज़ानिब
अच्छा अच्छा ये बात है  ... मांडवाली में गुजार दिए घंटे और दिन
अब आयेहो सच के पुजारी की मजार पर  ... जब सब कुछ गया छिन
दुखती रग पर रख दिया हो जैसे हाथ  ...  ठंडी आह के साथ बोले
यकीन नहीं आएगा आपको , गुलाम की तरहा से इमानदार रहा हूँ
सट्टेसे लेकर सत्ता तक बटवारे से निपटारे तलक , चुप बैठा रहा हूँ
मोती ना सही कंकर सही , अर्जी पर्ची का चक्कर कुर्ती कुर्सी सही
कंबल ना सही मफ़रल सही , चप्पल भी नहीं थप्पड़ ही सही
हर शामयाने में साथ दिया है , धरने जलसे सबको पास किया है
दीयों की रौशनी को  ... मोमबत्ती गैंग भीड़ में मिलकर बदला है
जंतर मंतर जादुटोनों को , पावर के टावर में साथ मिलकर बदला है
हवाला का व्यापार बदला है कारोबार में  तो ... एसेही नहीं बदला है
मुनाफ़े की उम्मीद रखता था 'अगर, तो इसमें गलत क्या था
सच का अनुयाई हूँ .. ईमानदारी का राशनकार्ड मेरे पास भी है
बात हक़ की है  ... मुस्कुराइए नहीं  ... यह हक़ आपको भी है
#सारस्वत
07052017